- थर्सडे को माधव राव सिंधिया स्कूल में लगी एग्जिबिशन

- स्टूडेंट्स ने मॉडल्स के जरिए अपनी प्रतिभा का किया प्रदर्शन

<

- थर्सडे को माधव राव सिंधिया स्कूल में लगी एग्जिबिशन

- स्टूडेंट्स ने मॉडल्स के जरिए अपनी प्रतिभा का किया प्रदर्शन

BAREILLY:

BAREILLY:

शहर में लगी स्ट्रीट लाइटें कई बार दिन में भी जलती दिखाई दे जाती हैं. इससे जहां एक ओर बिजली की बर्बादी होती है वहीं स्ट्रीट लाइट जल्दी खराब भी हो जाती हैं. बिजली की इस बर्बादी को रोकने के लिए माधव राव सिंधिया स्कूल के क्लास 9 की स्टूडेंट श्रेया दीक्षित ने ऐसी स्ट्रीट लाइट तैयार की है जो अंधेरा होते ही ऑन हो जाएगी और दिन निकलने के साथ ऑफ हो जाएगी. थर्सडे को माधव राव सिंधिया स्कूल में लगी एग्जिबिशन में स्टूडेंट ने इस स्ट्रीट लाइट का मॉडल प्रदर्शन के लिए रखा, जिसे खूब सराहा गया. इसके साथ ही एग्जीबिशन में ऑटोमेटिक डोर, ऑटोमेटिक रेलवे फाटक समेत अन्य मॉडल के जरिए स्टूडेंट्स ने अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन किया.

अंधेरा होते ही बंद हो जाएगा गेट

क्लास क्0 की मानसी ने एक ऐसा डोर बनाया जो अंधेरा होते ही ऑटोमेटिक बंद हो जाएगा और इस पर रोशनी पड़ते ही गेट खुल जाएगा. मानसी ने बताया कि जैसे ही अंधेरा होगा इस गेट में लगी हुई बेल बजने लगेगी और गेट बंद होने लगेगा. उसके बाद जैसे ही गेट पर रोशनी की एक किरण पड़ेगी वैसे ही गेट अपने आप खुल जाएगा. इसके अलावा इस ऑटोमेटिक डोर को मैनुअली भी ओपन या क्लोज किया जा सकता है.

ट्रेन हादसों पर लगेगी रोक

वैभव ने एक ऐसा मॉडल तैयार किया. जिससे अनमैन्ड रेलवे क्रॉसिंग पर होने वाले हादसों को रोका जा सकता है. वैभव का कहना है कि उनके मॉडल में पटरी के पास एक सेंसर लगाया जाएगा. जैसे ही ट्रेन वहां से गुजरेगी तो आगे आने वाले रेलवे क्रॉसिंग पर अलार्म बजने लगेगा जिससे वहां से गुजर रहे लोगों को पता लग जाएगा कि ट्रेन आने वाली है. इसके साथ ही गेट भी अपने आप बंद होने लगेगा और ट्रेन गुजरने के बाद गेट अपने आप ही खुल जाएगा.

सभी युगों के बारे बताया

हिंदी के स्टूडेंट्स ने एग्जिबिशन में ऐसे मॉडल भी बनाए जो एक ही बार में सभी युगों का ज्ञान करा देते है. तो वहीं दूसरी ओर सोशल सांइस के स्टूडेंट्स ने भी एक ऐसा मॉडल बनाया जो एक ही बार में सभी मुगल शासकों की सल्तनत के बारे में जानकारी हासिल की जा सकती है.

ये रहे विजेता

एग्जिबिशन में रिमोट कंट्रोल क्लींिनंग कार के लिए क्लास 8 के देव जयसवाल को फ‌र्स्ट प्राइज दिया गया. वहीं टेटो मेकिंग मशीन के लिए क्लास 8 के ही मोहन को सेकंड और डीजे लाइट के लिए क्लास 7 के श्रेयांश गुप्ता को थर्ड प्राइज दिया गया. इस मौके पर स्कूल का समस्त स्टाफ और स्टूडेंट्स मौजूद रहे.