मुंबई (पीटीआई)अत्यधिक उतार-चढ़ाव वाले सत्र के बाद सेंसेक्स बुधवार को 173 अंक फिसलकर बंद हुआ क्योंकि क्योंकि निवेशक कोरोना वायरस महामारी पर चिंताओं से घबराए रहे। बता दें कि दिन में कारोबार के दौरान 1300 अंक तक चढ़ने के बाद अंत में 30 सूचकांकों वाला सेंसेक्स 173.25 अंक या 0.58 प्रतिशत कम होकर 29,893.96 अंक पर बंद हुआ। इसने आज 31,227.97 की इंट्रा-डे हाई को भी हिट किया। इसी तरह एनएसई निफ्टी 43.45 अंक या 0.49 प्रतिशत की गिरावट के साथ 8,748.75 पर बंद हुआ। अगर पिछले सत्र की बात करें तो सेंसेक्स मंगलवार को 2,476.26 अंक या 8.97 प्रतिशत बढ़कर 30,067.21 अंक पर बंद हुआ था। वहीं, एनएसई निफ्टी 708.40 अंक या 8.76 प्रतिशत बढ़कर 8,792.20 अंक पर बंद हुआ था।

टीसीएस रहा टॉप लूजर

सेंसेक्स में टीसीएस 3 प्रतिशत से अधिक की गिरावट के साथ टॉप लूजर रहा, इसके बाद टाइटन, आईसीआईसीआई बैंक, एसबीआई, आईटीसी और भारती एयरटेल का स्थान रहा। दूसरी ओर, सन फार्मा, एनटीपीसी, इंडसइंड बैंक और बजाज फाइनेंस टॉप गेनर वालों में से थे। इक्विटी रिसर्च, आशिका स्टॉक ब्रोकिंग के प्रेसिडेंट पारस बोथरा के अनुसार, बाजारों में अस्थिरता इस अटकल के कारण थी कि केंद्र सरकार 14 अप्रैल से परे लॉकडाउन का विस्तार कर रही है। इसके अलावा, ट्रेडर ने कहा कि भारतीय बाजारों ने वैश्विक बेंचमार्क के साथ तालमेल बिठाया क्योंकि कोरोना वायरस महामारी के आर्थिक प्रभाव को लेकर निवेशकों के मन में अभी भी काफी चिंता है।

Posted By: Mukul Kumar

Business News inextlive from Business News Desk

inext-banner
inext-banner