लखनऊ (आईएएनएस)। उत्तर प्रदेश के बड़े अधिकारी सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लेने के लिए मंगलवार को अयोध्या पहुंचेंगे और 'दीपोत्सव' की तैयारियों में भी जुटेंगे। बता दें कि 26 अक्टूबर को अयोध्या में 'दीपोत्सव' मनाया जाएगा। उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव आर के तिवारी, डीजीपी ओपी सिंह और अतिरिक्त मुख्य सचिव (गृह) अवनीश अवस्थी स्थानीय अधिकारियों के साथ अयोध्या कई बैठकें आयोजित करेंगे। उत्तर प्रदेश सरकार के प्रवक्ता के अनुसार, अधिकारी 'दीपोत्सव' के लिए सुरक्षा व्यवस्था का आकलन करेंगे और पवित्र शहर में आवश्यक उपाय भी करेंगे क्योंकि सुप्रीम कोर्ट अगले महीने राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद जमीन विवाद मामले में अपना फैसला सुना सकता है।

आवाजाही पर करेंगे चर्चा

अयोध्या में अभी से ही धारा 144 लागू हो चुका है। इसे देखते हुए आने वाले अधिकारी 'दीपोत्सव' और 'छठ पूजा' सहित अन्य त्योहारों के दौरान तीर्थयात्रियों की आवाजाही पर चर्चा करेंगे। बता दें कि अयोध्या राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद भूमि विवाद मामले की सुप्रीम कोर्ट में हो रही सुनवाई अंतिम दाैर में पहुंच चुकी है। सुप्रीम कोर्ट का फैसला आने से पहले अयोध्या में प्रशासन अलर्ट हो गया है। यहां सुरक्षा व्यवस्था बढ़ा दी गई है। वहीं, अयोध्या में आयोजित होने वाले इस 'दीपोत्सव' से हजारों पर्यटकों को आकर्षित करने की बड़ी उम्मीद है।

अयोध्या में भव्य होगा दीवाली का आयोजन, दीपाेत्सव के लिए शुरू हुईं तैयारियां

अब नहीं सुनी जाएगी दलील

बता दें कि हाल ही में सीजेआई रंजन गोगोई ने कहा था कि 18 अक्टूबर के बाद किसी भी पक्ष की दलील नहीं सुनी जाएगी। सीजेआई रंजन गोगोई ने यह भी कहा था कि 17 नवंबर को रिटायर होने से पहले इसका फैसला सुनाना चाहते हैं। सुप्रमीम कोर्ट इन दिनों राम जन्मभूमि - बाबरी मस्जिद भूमि विवाद मामले में हिंदू, मुस्लिम और अन्य पक्षों द्वारा दायर याचिकाओं के एक बैच पर इन दिनों सुनवाई कर रही है।

Posted By: Mukul Kumar

National News inextlive from India News Desk

inext-banner
inext-banner