उसकी जमकर धुनाई करने के बाद पुलिस को सौंप दिया. पुलिस की पूछताछ में लुटेरे ने अपने गैंग के सदस्यों के नाम बताए. इस जानकारी पर पुलिस ने तीन और लुटेरे दबोच लिए. इनके पास से लूट का माल भी बरामद हुआ है.

पहले टक्कर मारी

सदर बाजार में ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स की शाखा है. गुरुवार को सुबह 11 बजे कल्याण जी साड़ी वाले के यहां सेल्समैन सुनील यादव बैंक में एक लाख रुपए जमा करने जा रहा था. पैसे पॉलिथिन में डालकर जेब में रखे हुए थे. बैंक के नजदीक ही साइकिल से रहे एक शख्स ने यादव को टक्कर मार दी. यादव उस शख्स पर चढ़ बैठा. तभी एक लुटेरे ने उसकी जेब से पॉलिथिन पार कर दी.

शोर मचा दिया

सुनील ने शोर मचा दिया. व्यापारियों ने तभी दुकानें खोली थीं. वो बाहर ही खड़े थे. बाजार के अध्यक्ष सुनील कुमार दुआ, गगन सेठी, बॉबी मनचंदा आदि व्यापारियों ने लुटेरे को बाजार में ही घेर लिया. उसकी जमकर धुनाई की गई. एक लाख रुपए भी बरामद हो गए. उधर, साइकिल से टक्कर मारने वाला शख्स भागने में कामयाब रहा. व्यापारियों ने पुलिस को सूचना दे दी.

तीन और पकड़े

सदर थाने की पुलिस मौके पर पहुंची. लुटेरे को कब्जे में लिया और थाने ले आई. लुटेरे ने अपनी पहचान अन्नू पुत्र निजामुद्दीन, थाना नागफनी, मुरादाबाद बताई. पूछताछ में लुटेरे ने घटना में शामिल अपने तीन और साथियों के नाम बताए. पुलिस ने इन तीनों को दोपहर में कंकरखेड़ा ओवरब्रिज के नीचे से गिरफ्तार कर लिया. पकड़े गए लुटेरे आलम, रिजवान और रफत तीनों मुरादाबाद के ही रहने वाले हैं.

लूट का माल बरामद

पुलिस ने इन तीनों के कब्जे से एक पैशन मोटरसाइकिल बरामद की. ये बाइक इन्होंने मेट्रो प्लाजा से कुछ ही दिन पहले चुराई थी. इसके साथ ही एक देशी तमंचा, दो चाकू, सदर थाने से संबंधित लूट के दस हजार रुपए, दो मोबाइल, सोने की चेन भी बरामद की गई. इन्होंने लूट की कई घटनाओं का इकबाल किया है. ये मुरादाबाद से आकर मेरठ में लूटपाट करते थे.