ऐसे ही हमारे ऑफिस की वास्तु वाइब्स हमें हमारी मिलने वाली सफलता में मदद करती है। हमारे कार्यालय, ऑफिस में यह बहुत जरूरी है कि हम क्या, कौन सी गतिविधि, कहां कर रहे हैं? ऑफिस में रंगों का चयन हल्के रंगों का हो तो बेहतर है क्योंकि इससे ऑफिस में काम कर रहे लोगों के और वहां आने वालों का मन शांत रहता है।

बैठने की जगह ऐसी हो जहां सकारात्मकता रहे

ऑफिस के फर्नीचर का और आंतरिक साज सजावट का भी चयन इन्हीं बातों को ध्यान में रखते हुए करें तो अच्छा है। कर्मचारियों की पोशाक भी हल्के शेड्स में हो। ऑफिस में हमारे बैठने की जगह भी ऐसी हो जहां हम सकारात्मक रहें। ऑफिस में उत्तर या पूर्व की ओर मुख करके बैठना अच्छा होता है। ऑफिस में जहां स्टाफ के साथ मीटिंग्स होती हों, वहां अर्ध गोलाकार टेबल न हो। इससे आपकी परेशानियां वहां काम कर रहे लोगों के साथ बढ़ सकती हैं और वहां हुई मीटिंग्स का नतीजा भी फायदेमंद नहीं होगा। ओनर के ऑफिस में जहां वह बैठे वहां दीवार होनी चाहिए।

Vastu Tips: घर बनवाते समय उत्तर पूर्व की तरफ ज्यादा जगह छोड़ें, मिलेगी जीवनदायी ऊर्जा

कबिन का दरवाजा अंदर की ओर खुले

ऑफिस में अकाउंटेंट पूर्व दिशा की ओर बैठे तो बेहतर होगा। आपके केबिन का दरवाजा अंदर को खुले। ऑफिस में लगी लाइट्स भी बहुत तेज न हो। यहां कोई ऐसी पेंटिंग या पोस्टर न लगा हो जो हिंसा या नकारात्मक संदेश देता हो। यदि कोई पोस्टर या पेंटिंग लगानी भी हो तो ऐसी लगाएं जिसमें प्रेरणात्मक विचार हो। ये ध्यान रहे कि केबिन में जहां आप मीटिंग करते हों, वहां कोई बिम न हो। ऑफिस में मंदिर ऐसी जगह पर हो, जहां सुबह के समय हर कर्मचारी दर्शन करें तो बेहतर है या लगभग सभी को वह मंदिर दिखे। इन कार्यों से परिणाम कुछ और बेहतर मिलते हैं। बस बात इतनी सी है समझने की।

-प्रेम पंजवानी

Posted By: Vandana Sharma

Spiritual News inextlive from Spiritual News Desk