भारतीय ओलंपिक संघ (आईओए) ने आज नैतिक आयोग और मध्यस्थता आयोग का पुनर्गठन किया जिसमें पांच नए सदस्य शामिल किए गए हैं.

नैतिक आयोग में उच्चतम न्यायालय के सेवानिवृत न्यायाधीश अरुण कुमार और उच्च न्यायालय के सेवानिवृत न्यायाधीश एस के महाजन के रूप में दो नए सदस्य शामिल किए गए हैं जबकि मध्यस्थता आयोग के नए सदस्यों में उच्चतम न्यायालय के न्यायाधीश (सेवानिवृत) एच एस बेदी, उच्च न्यायालय के न्यायाधीश (सेवानिवृत) एस के अग्रवाल और मंजू गोयल शामिल हैं.

आईओए ने 15 दिसंबर को अपनी आम सभा में इन दोनों आयोग को निरस्त कर दिया था लेकिन अब पुनर्गठित आयोग में पिछले सभी सदस्यों को लिया गया है. इस तरह से नैतिक समिति में अब पांच जबकि मध्यस्थता आयोग में 11 सदस्य हो गए हैं.

आईओए के कार्यकारी अध्यक्ष विजय कुमार मल्होत्रा ने कहा कि वार्षिक आम सभा (एजीएम) में लिए गए फैसले के अनुरूप इन समितियों का गठन किया गया है. उन्होंने कहा कि इस तरह का गलत अभियान चलाया गया कि आईओए नैतिक समिति और खेलों के लिए भारतीय मध्यस्थता अदालत (आईसीएएस) के खिलाफ है.

उन्होंने कहा, ‘‘इन समितियों के पुनर्गठन से साबित होता है कि हम कुछ भी छिपाना नहीं चाहते हैं और अपने वादों के प्रति कर्तव्यनिष्ठ हैं तथा आईओए में पारदर्शिता चाहते हैं. इन समितियों के पुनर्गठन को आईओए की आम सभा की मंजूरी है और यह उन लोगों को करारा जवाब है जो खेल महासंघों की स्वायत्ता मे अतिक्रमण करना चाहते हैं. ’’ मल्होत्रा ने कहा, ‘‘आईओए ओलंपिक चार्टर का पूरा सम्मान करता है तथा अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति (आईओसी) के दिशानिर्देशों का अनुसरण करता है. हमने नैतिक समिति के संबंध में कभी आईओसी के विचारों या सुझावों को नजरअंदाज नहीं किया जिस तरह की बातें कुछ निहित स्वार्थी तत्वों ने आईओए को अस्थिर करने के लिए की थी.’’

उन्होंने कहा कि नैतिक समिति और आईसीएएस के नियम और कायदे कानून जल्द ही तैयार किए जाएंगे. अब आईओए से मान्यता प्राप्त सभी खेल महासंघों से संबंधित विवादों का निबटारा आईसीएएस करेगा.

 नैतिक आयोग में शामिल सदस्य इस प्रकार हैं ... न्यायमूर्ति (सेवानिवृत) उमेश बनर्जी, न्यायमूर्ति (सेवानिवृत) अरुण कुमार, न्यायमूर्ति (सेवानिवृत) आर एल खन्ना, न्यायमूर्ति (सेवानिवृत) एमएसए सिद्दीकी और न्यायमूर्ति (सेवानिवृत) एस के महाजन.

खेलों के लिए भारतीय मध्यस्थता अदालत यानि मध्यस्थता आयोग के सदस्य इस प्रकार हैं ... ए आर लक्ष्मणन, न्यायमूर्ति (सेवानिवृत) एच एस बेदी, न्यायमूर्ति (सेवानिवृत) एम आर कुल्ला, न्यायमूर्ति (सेवानिवृत) आर एस सोढ़ी, न्यायमूर्ति (सेवानिवृत) बी ए खान, न्यायामूर्ति (सेवानिवृत) उषा मेहरा, न्यायमूर्ति (सेवानिवृत) जे के मेहरा, न्यायमूर्ति (सेवानिवृत) लोकेश्वर प्रसाद, न्यायामूर्ति (सेवानिवृत) एस एन सपरा, न्यायमूर्ति (सेवानिवृत) एस के अग्रवाल और न्यायमूर्ति (सेवानिवृत) मंजू गोयल.