करीबी पर शिकंजा कसे तो गिरफ्त में होगा राहुल का गुनाहगार

2020-02-24T05:46:30Z

-पुलिस को पता है आरोपी को पकड़ने की नब्ज, फिर भी रहमोकरम क्यों

PRAYAGRAJ: नैनी में हुक्काबार में हुई बालू कारोबारी राहुल दुबे की हत्या में फरारी काट रहे एक आरोपी की गिरफ्तारी को लेकर अब पुलिस विभाग पर सवालिया निशान खड़े होने लगे हैं। पुलिस एक आरोपी को पकड़ने के लिए कई जगह दबिश दे चुकी हैं। आरोपी की गिरफ्तार को लेकर नैनी पुलिस के साथ स्वॉट टीम ने भी शहर के ठिकानों से लेकर फतेहपुर, दिल्ली, मुंबई तक दबिश दी गई। फिर भी पकड़ने में असफल रही। कहां जाता हैं अगर पुलिस किसी भी आरोपी को पकड़ना चाहे तो उसकी नब्ज की जानकारी भलीं भांति होती हैं। पुलिस को यह पूरी जानकारी है कि आरोपी को पकड़ने के लिए उसके एक करीबी को उठाने से सफलता मिल सकती है। लेकिन पुलिस उस करीबी को उठाने से पीछे हट रही है।

करीबियों को उठाने में असमर्थ क्यों

इस मर्डर में फरारी काट रहे एक आरोपी के करीबियों को पुलिस उठा तक नहीं रही है। आखिर पुलिस के आगे असमर्थता क्या है। यह सिर्फ सवाल बनकर रह गया है। एक आरोपी फरारी काट रहा है तो दूसरे पकड़े गए आरोपित पुलिस कस्टडी में ऐश कर रहे हैं। पिपरांव ग्राम सभा के चांडी गांव निवासी बालू कारोबारी राहुल दुबे पुत्र सुरेश नन्दन दुबे के हत्याकांड में शामिल सभी आरोपियों की गिरफ्तारी पुलिस घटना के बाद ही सुरागकशी करते हुए कर चुकी है। गिरफ्तार आरोपियों से मिली लोकेशन और निशानदेही के बाद नुरेन की लोकेशन पर कई जगह पर दबिश दी गई। फिर भी पुलिस के हाथ खाली हैं। हाल ही में पुलिस की तीन टीम दिल्ली के लिए रवाना हुई थी। उसके बाद उसका लोकेशन मुंबई मिला तो टीम वहां भी गई थी। मामले में एसपी यमुनापार दीपेंद्र नाथ चौधरी ने बताया कि घटना में शामिल कई लोगो को उठाया गया है। एक अन्य की तलाश में टीम लगी हुई है। जल्दी खुलासा किया जाएगा।

Posted By: Inextlive

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.