Imamganj, Bihar Assembly Elections Result 2020: Jitan Ram Manjhi Vs Uday Narayan Choudhary RJD: पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी ने जीता चुनाव, RJD कैंडीडेट को 16034 वोटों के अंतर से हराया

Updated Date: Wed, 11 Nov 2020 10:10 AM (IST)

बिहार विधानसभा चुनाव का परिणाम आ गया है। इस बार इमामगंज सीट पर पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी ने फिर बाजी मारी। मांझी ने आरजेडी कैंडीडेट को 16034 वोटों के अंतर से हराया।

कानपुर (इंटरनेट डेस्क)। Imamganj, Bihar Assembly Elections Result 2020 बिहार की इमामगंज विधानसभा सीट पर जीतन राम मांझी को बड़ जीत मिली है। उन्हाेंने आरजेडी उम्मीदवार उदय नारायण चौधरी को 16034 वोटों के अंतर से हराया।
जानें किसे मिले कितने वोट-
हिंदुस्तान आवाम मोर्चा (जीतन राम मांझी)- 78762 वोट
राष्ट्रीय जनता दल (उदय नारायण चौधरी)- 62728 वोट
लोक जनशक्ति पार्टी (कुमारी शोभा सिन्हा)- 14197 वोट
मांझी बनाम चौधरी के बीच जंग
बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा के अध्यक्ष जीतन राम मांझी गया जिले की इमामगंज विधानसभा सीट से चुनाव लड़ रहे हैं। उनका मुकाबला राजद के उदय नारायण चौधरी और लोजपा की शोभा सिन्हा से है। 2015 में, मांझी ने उदय नारायण चौधरी को लगभग 30,000 वोटों के बड़े अंतर से हराकर यह सीट जीती थी। चौधरी ने हालांकि, चार बार - 1990, 2000, 2005 और 2010 में इमामगंज सीट जीती है। दोनों के बीच मुकाबला काफी कठिन होने की उम्मीद है क्योंकि वे दोनों दलित नेता हैं।

नीतीश से अलग हुए मांझी
दोनों नेता पहले नीतीश कुमार के जदयू का हिस्सा थे। 2014 के लोकसभा चुनावों में भारी हार के बाद, नीतीश कुमार ने जिम्मेदारी ली और शीर्ष पद से हट गए। जीतन राम मांझी तब अगले मुख्यमंत्री बने। महीनों बाद, उन्हें नीतीश कुमार के लिए रास्ता बनाने के लिए कहा गया। जब मांझी ने इनकार कर दिया, तो उन्हें विश्वास मत मांगने के लिए कहा गया। हालांकि, उन्होंने मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया और जेडीयू छोड़ दिया। बाद में, उन्होंने अपना खुद का राजनीतिक संगठन बनाया - हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा।

यहां की राजनीति है गठबंधन वाली
2015 में, जेडीयू ने फिर राजद के साथ विधानसभा चुनाव लड़ने का फैसला किया। दोनों दलों ने मिलकर चुनाव लड़े और नीतीश कुमार को मुख्यमंत्री और तेजस्वी यादव को उपमुख्यमंत्री बनाया। दो साल बाद, जेडीयू ने आरजेडी से गठबंधन तोड़ लिया और एनडीए में वापस आ गई। उदय नारायण चौधरी, जो उस समय तक जेडीयू के साथ थे, ने भाजपा के साथ फिर से गठबंधन का विरोध किया और नीतीश कुमार को छोड़ दिया। 2019 में, वह राजद में शामिल हो गए। इमामगंज विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र में 28 अक्टूबर को पहले चरण के मतदान हुए थे। परिणाम मंगलवार (10 नवंबर) को घोषित किए जाएंगे।

Posted By: Abhishek Kumar Tiwari
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.