विकास पर यूनिपोल का विवाद हावी

2016-03-30T02:10:05Z

बजट बैठक में शहर में लगे अवैध यूनिपोल और होर्डिग्स का मामला फिर गर्माया

मेयर के खिलाफ भाजपा के संगीन आरोप, भाजपा ने अध्यक्ष चुन सदन की बैठक की

BAREILLY:

नगर निगम में ट्यूजडे को हुई बजट बैठक में अवैध होर्डिंग्स व यूनिपोल के विवाद में शहर के विकास का मुद्दा पीछे छूट गया। हंगामे की बुनियाद यूनिपोल का मुद्दा बनी। शहर में लगी अवैध होर्डिग्स व यूनिपोल लगाने वाली एजेंसी का नाम, किसके आदेश पर यूनिपोल लगाए गए और दोषियों के खिलाफ की गई कार्रवाई की मांग पर सदन में हंगामा हुआ। नगर निगम के सामने ही यूनिपोल लगाए जाने को लेकर भी पार्षदों ने अधिकारियों की नीयत पर सवाल खड़े किए। साथ ही अवैध होर्डिग्स व यूनिपोल लगाने वाली एजेंसी के खिलाफ एफआईआर दर्ज न करने पर हंगामा किया। वहीं भाजपा पार्षदों ने करप्शन के मामले में मेयर डॉ। आईएस तोमर पर सपा पार्षदों का साथ देने के गंभीर आरोप लगाए।

माई का लाल पर बवाल

बैठक में भाजपा पार्षद नेता विकास शर्मा ने यूनिपोल लगाने वाली एजेंसी के ठेकेदार पर कार्रवाई की मांग की। इस पर सपा पार्षद नेता राजेश अग्रवाल ने सिर्फ ठेकेदार को बलि का बकरा न बनाने और इसके लिए दोषी निगम के अधिकारी, कर्मचारी व कमीशनखोरों पर भी कार्रवाई के लिए कहा। उन्होंने आरोप लगाया कि होर्डिग्स लगाने के लिए 2-2 हजार रुपए लिए जा रहे हैं। करप्शन के आरोप लगाते वक्त वह असंसदीय शब्दों का इस्तेमाल कर गए और दावा किया कि अवैध होर्डिग लगाने वालों को कोई रोक नहीं सकता इनकी जड़ें बहुत गहरी हैं। वहीं, सदन असंसदीय भाषा के इस्तेमाल पर भाजपा पार्षद नेता ने आपत्ति जताई और करप्शन के गंभीर आरोप लगाए। जिसके बाद सपा पार्षद नेता व भाजपा पार्षद नेता के बीच जुबानी जंग छिड़ गई।

सिर्फ 4 यूनिपोल पर कार्रवाई

अवैध यूनिपोल पर मामले के तूल पकड़ने पर मेयर ने भी पुराने मामलों में जांच व कार्रवाई न होने की बात कही। मेयर ने सहायक नगर आयुक्त विकास सेन से पूछा कि अवैध होर्डिग्स व यूनिपोल की जो लिस्ट दी थी, उस पर कार्रवाई न होने पर फटकारा। इस पर सहायक नगर आयुक्त ने 4 यूनिपोल पर कार्रवाई करने और इन्हें रिलीज न किए जाने की जानकारी दी। पार्षद मो। मुख्तियार खान ने शहर डीएम व कमिश्नर आवास से लेकर बड़े ज्वैलर्स के बाहर लगे अवैध यूनिपेाल की रिपोर्ट दी, जिस पर कार्रवाई नहीं किए जाने पर सवाल खड़े किए।

--------------------------------

भाजपा ने चुना अध्यक्ष्ा चलाया सदन

सदन में बजट की बैठक पौन घंटे में ही खत्म किए जाने का भाजपा पार्षदों ने विरोध किया। भाजपा पार्षद नेता विकास शर्मा की अगुवाई में भाजपाई पार्षद सदन में ही बैठे रहे। भाजपा पार्षदों ने आरोप लगाए कि सदन में मेयर की भूमिका डॉ। आईएस तोमर नहीं बल्कि सपा पार्षद राजेश अग्रवाल निभा रहे थे। करप्शन के मुद्दे पर सपा पार्षदों संग मेयर ने बैठक बीच में छोड़ी। भाजपा पार्षदों ने सदन खत्म हो जाने के बावजूद बैठक जारी रखी और आपसी चुनाव से महिला पार्षद शालिनी जौहरी को अध्यक्ष चुनकर बजट पर बैठक की। इस दौरान सदन के हॉल की लाइट काट दी गई। जिससे गर्मी में बिना एसी व पानी के अंधेरे में ही भाजपा पार्षदों ने बैठक की। जबकि मेयर ऑफिस में सपा पार्षद मेयर संग नाश्ते की दावत उड़ाते रहे।

---------------------------


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.