लखनऊ (फीचर डेस्क)। भारतीय जनता पार्टी के राज्यसभा के लिए उम्मीदवार नीरज शेखर ने बुधवार को विधानसभा के सेंट्रल हॉल में नामांकन पत्र दाखिल किया। इस दौरान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, पार्टी प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह, डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य व डॉ. दिनेश शर्मा समेत मंत्रिमंडल के तमाम सदस्य मौजूद रहे। राज्यसभा जाने के सियासी गुणा-भाग को देखते हुए नीरज शेखर के निर्विरोध चुने जाने की प्रबल संभावना है। फिलहाल विपक्ष द्वारा अपना कोई प्रत्याशी उतारने के आसार नजर नहीं आ रहे हैं। ध्यान रहे कि हाल ही में नीरज शेखर सपा को छोड़कर भाजपा में शामिल हुए थे।

सपा छोड़ने से पहले दिया राज्यसभा से इस्तीफा
सपा छोड़ने से पहले उन्होंने राज्यसभा की सदस्यता से इस्तीफा भी दे दिया था। इस अवसर पर पार्टी प्रदेश उपाध्यक्ष जेपीएस राठौर, डॉ। राकेश त्रिवेदी, दया शंकर सिंह, प्रदेश महामंत्री व एमएलसी विजय बहादुर पाठक, नीलिमा कटियार, मंत्री सुरेश खन्ना, गोपाल टंडन, ब्रजेश पाठक, चेतन चौहान, डॉ। महेन्द्र सिंह, गिरीश यादव, बलदेव ओलख, उपेन्द्र तिवारी, सुरेश राणा, विधायक राधा मोहन दास अग्रवाल, सुरेश श्रीवास्तव सहित कई अन्य प्रमुख पदाधिकारी व जनप्रतिनिधि मौजृूद रहे। वहीं नामांकन में सपा के दो एमएलसी रविशंकर सिंह 'पप्पू' व सीपी चंद भी मौजूद थे।

यूपी करेगा रूस में खेती, वापसी के बाद सीएम योगी ने दिया ब्योरा

नीरज शेखर पर नहीं कोई मुकदमा
पूर्व पीएम चंद्रशेखर के पुत्र नीरज शेखर के खिलाफ कोई मुकदमा दर्ज नहीं है। राज्यसभा के लिए नामांकन के दौरान दिए गये शपथ पत्र के मुताबिक उनकी कुल संपत्ति 1.84 करोड़  रुपये है। उनके पास गाड़ी, जेवरात और लाइसेंसी असलहा भी नहीं है। अपने शपथ पत्र में उन्होंने 2.65 करेाड़ रुपये की स्व-अर्जित संपत्ति होने की घोषणा की है। उनको विरासत में 71 लाख रुपये मूल्य की संपत्ति मिली है। वहीं उनकी पत्नी सुषमा शेखर के पास 1.31 करोड़ रुपये की चल संपत्ति और 1.48 लाख रुपये की स्वार्जित संपत्ति है। नीरज शेखर के पास बलिया और इब्राहिम पट्टी के अलावा लखनऊ और हरियाणा में कृषि योग्य तथा आवासीय प्लाट है जबकि पत्नी के पास लखनऊ, वाराणसी और हरियाणा में जमीन और गाड़ी है।

lucknow@inext.co.in

पीएम मोदी के भाषण की वो महत्वपूर्ण बातें, जो आपको भी पता होनी चाहिए

National News inextlive from India News Desk