-मायके वालों ने ससुरालियों पर दहेज कम देने पर हत्या करने का लगाया आरोप

-पोस्टमार्टम रिपोर्ट में महिला के शरीर पर मिले जख्मों के निशान, तेजाब पीने से मौत की हुई पुष्टि

बरेली. मुडिया नवीबख्श इलाके में मंडे की रात एक विवाहिता ने एसिड पी लिया. जिससे उसकी हालत नाजुक हो गई. आनन-फानन में विवाहिता के ससुराल वालों ने उसे निजी हॉस्पिटल में एडमिट कराया. हालत गंभीर होने पर डॉक्टरों ने उसे डिस्ट्रिक्ट हॉस्पिटलं रेफर कर दिया. ट्यूजडे को इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई. विवाहिता के मायके पक्ष के लोगों ने दहेज का अरोप लगाया और पुलिस को सूचना दी. पोस्टमार्टम रिपोर्ट में मृतका के शरीर पर जख्मों के गहरे निशान मिले हैं और तेजाब पीने से मौत की पुष्टि हुई है. वहीं महिला की मौत के बाद से ससुराल वाले घर से फरार हो गए हैं.

यह है मामला

थाना कैंट के लाल फाटक निवासी यशोदा देवी की शादी डेढ़ साल पहले बहेड़ी के मुडि़या नवीबख्श के रहने वाले ओमकार से हुई थी. ओमकार के पिता रमेश आनंद भूषण इंटर कॉलेज, मुडि़या में क्लर्क हैं. मायके वालों का आरोप है कि ससुराली दहेज में पचास हजार रूपए कम मिलने को लेकर विवाहिता को प्रताडि़त करते थे. लगभग छह महीने पहले उनका मामला परिवार परामर्श केंद्र में पहुंचा था. इसके बावजूद ससुरालियों ने विवाहिता को साथ रखने से मना कर दिया था. मगर मुडिया नवीबख्श के ग्राम प्रधान नरेश ने दोनो परिवारों में समझौता कराया दिया था. उसके बाद से विवाहिता ससुराल में रहने लगी थी. महिला के भाई मनीष का आरोप है कि उसकी बहन ने सोमवार को फोन किया था. वह कॉल पर रो-रोकर बोल रही थी कि भैया मुझे बचा लो. उसके बाद अचानक बहन का फोन कट हो गया. अगली सुबह बहन की तबीयत खराब होने की सूचना उसे मिली.

शव छोड़कर भागे ससुराली

लाल फाटक के पास हार्डवेयर का कारोबार करने वाले गिरीश ने बताया कि बहेड़ी पुलिस की सूचना पर जब वे जिला अस्पताल पहुंचे तो कोई ससुराली मौजूद नहीं था. उन्होंने कहा कि अगर ससुराली गलत नहीं थे तो उन्हें रुकना चाहिए था. मोर्चरी में सिर्फ उनकी बेटी की लाश थी. बताया कि बेटी के शरीर पर चाकू के कई वार थे. उसका गला जला हुआ था. उन्होंने कहा कि बेटी को 50 हजार रुपये के खातिर मार डाला. बहेड़ी इंस्पेक्टर ने कहा कि लड़की के ससुराल वालों ने तेजाब पीने की जानकारी दी थी. उसकी मौत के बाद मायके वाले तहरीर देंगे तो मुकदमा दर्ज किया जाएगा. जांच के बाद आवश्यक कार्रवाई की जाएगी.