कानपुर। Surya Grahan 2020: भारत में यह सूर्यग्रहण सबसे पहले राजस्थान से दिखाई पडऩा शुरू होगा। भारत में सूर्य ग्रहण सुबह 10:20 बजे शुरू होगा। इसका चरम दोपहर 12:02 बजे होगा और मोक्ष दोपहर में 1:57 बजे होगा। इस तरह टोटल ड्यूरेशन लगभग 3 घंटे 37 मिनट का रहेगा।

सूर्य ग्रहण का समय
सूर्य ग्रहण प्रारम्भ- 10।20 सुबह
परमग्रास सूर्य ग्रहण- 12:02 दोपहर
ग्रहण समाप्ति काल-01:57 दोपहर

12 घंटे पहले से शुरू होगा सूर्य ग्रहण का सूतक काल-

21 जून यानि रविवार को सूर्य ग्रहण लगेगा। धार्मिक दृष्टि से यह सूर्य ग्रहण काफी महत्वपूर्ण माना जा रहा है। बता दें कि यह ग्रहण, चंद्र ग्रहण के ठीक 16 दिन
बाद लग रहा है इसलिए इसमें सूतक काल मान्य होगा। सूतक काल की अवधि 12 घंटे पहले से लग जाएगी।

सूतक काल आरम्भ-20 जून शनिवार रात 9:52 बजे
सूतक काल समाप्त- 21 जून दोपहर 1:57 बजे

कहां दिखाई देगा सूर्य ग्रहण-
यह सूर्य ग्रहण भारत, नेपाल, पाकिस्तान, सऊदी अरब, यूऐई, एथोपिया तथा कोंगों में दिखाई देगा। भारत में यह राजस्थान के सूरजगढ़, हरियाणा के सिरसा, कुरुक्षेत्र, उत्तराखंड के देहरादून, टिहरी और चमोली में इसे पूरी तरह से देखा जा सकेगा। नई दिल्ली, चंडीगढ़, मुम्बई, कोलकाता, हैदराबाद, बंगलौर, लखनऊ, प्रयागराज, चेन्नई, शिमला, रियाद, अबू धाबी, कराची, बैंकाक तथा काठमांडू आदि कुछ प्रसिद्ध शहर हैं जहां से आंशिक सूर्य ग्रहण दिखाई देगा।

यहां नहीं दिखाई देगा सूर्य ग्रहण-
यह सूर्य ग्रहण उत्तर अमेरिका, दक्षिण अमेरिका महाद्वीप के देशों और ऑस्ट्रेलिया महाद्वीप के अधिकांश हिस्सों से दिखाई नहीं देगा। इनके अतिरिक्त यूनाइटेड किंगडम, फ्रांस, इटली, जर्मनी, स्पेन और कुछ अन्य यूरोपीय महाद्वीप के देशों से सूर्य ग्रहण दिखाई नहीं देगा।

Posted By: Inextlive Desk

Spiritual News inextlive from Spiritual News Desk