- तनाव नहीं मन को शान्त कर करें तैयारी

- प्रोटीन से भरपूर खाने का रखें खास ख्याल

dehradun@inext.co.in

DEHRADUN: एग्जाम को लेकर सीबीएसई का काउंटडाउन आज खत्म हो गया है. एग्जाम आज से स्टार्ट हो गए है. पहला एग्जाम क्लास ट्वेल्थ के इंग्लिश सब्जेक्ट का है. सीबीएसई की टेंथ और आईसीएसई(क्0) के एग्जाम तीन मार्च यानि मंडे से स्टार्ट होंगे. एग्जाम के बढ़ते प्रेशर में कैसे रखे अपना ख्याल. पेरेंट्स कैसे अपने बच्चे को हेल्दी डाइट देकर एग्जाम के स्ट्रेस और दबाव से मुक्त रख सकते है. पढ़ें आई नेक्स्ट की स्पेशल रिपोर्ट.

ख्ख् सेंटर पर एग्जाम

सैटर डे यानि आज से सीबीएसई एग्जाम स्टार्ट हो गए हैं. क्लास ट्वेल्थ के इंग्लिश सब्जेक्ट के साथ एग्जाम्स का आगाज हुआ. इस बार एग्जाम के लिए टेंथ में ख्0भ्फ् और ट्वेल्थ क्लास के लिए क्क्97क् स्टूडेंट एग्जाम में शामिल होंगे. सीबीएसई कॉर्डिनेटर छाया खन्ना ने बताया कि इस बार जनपद में कुल क्क् सेंटर पर एग्जाम ऑर्गनाइज होगा. सेंटर्स नें एक विकासनगर मे सेंट मेरी स्कूल में, मसूरी में केवी और ओक ग्रोव स्कूल और रायवाला में केवी, डीएसडी श्यामपुर और आर्मी पब्लिक स्कूल को सेंटर बनाया गया है. इसके अलावा नकल रोकने के लिए भी कड़े इंतजाम किए गए है.

बॉक्स....

एग्जाम में रहें रिलेक्स

एग्जाम के लिए स्टूडेंट्स को आधा घंटा पहले आना होगा. बोर्ड ने यह एक्स्ट्रा वक्त दिया गया है, लेकिन इस वक्त के अलग स्टूडेंट्स को रिलैक्स होकर एग्जाम की तैयारी करनी होगी. काउंसलर्स की माने तो स्टूडेंट्स को एग्जाम टाइम मे हजी नहीं बल्कि घर में भी संयमित रहने की जरूरत है. इसी को लेकर कई स्कूल्स ने खास तौर पर स्कूल्स ने अपने स्टूडेंट्स को भी कुछ खास टिप्स दी है. जिंप पायनियर स्कूल ने एग्जाम स्टार्ट होने से पहले बच्चों के लिए एग्जाम प्रीपेरेशन के लिए कुछ खास टिप्स दिए है.

बॉक्स....

हाई प्रोटीन डाइट है जरूरी

श्री महंत इन्दिरेश हॉस्पिटल की डायटीशियन बबीता गुप्ता का कहना है कि स्टूडेंट्स को हाई प्रोटीन डाइट लेनी चाहिए. पेरेंट्स को अपनेच्बच्चों को दूध, अंडे, दही भरपूर मात्रा में देने चाहिए. ब्रेकफ्रास्ट, लंच, डिनर में से कोई भी डाइट स्किप नहीं करनी चाहिए. सीजनल फ्रूट्स जैसे ओरेंज, जूस और चॉकलेट बच्चों को दें. माइंड फ्रेश रखने के लिए स्टडी के दौरान स्टूडेंट्स बीच-बीच कॉफी भी ले सते हैं.

स्टूडेंट्स के लिए टिप्स

- शॉर्टकट के बजाय सब्जेक्ट की डीप स्ट्डी करें.

- स्टडी टाइम में तनावमुक्त रहें,माहौल शांत चुने

- स्टडीज के लिए एक टाइम टेबल बनाएं

- टाइम टेबल में सभी सब्जेक्ट्स शामिल होने चाहिए

- हार्ड सब्जेक्ट को अधिक व ईजी को कम टाइम दें.

- पढ़े हुए चैप्टर के मुख्य बिन्दुओं को सारांशित करें

- अपनी सोच सकारात्मक रखें और एग्जाम का डर दूर करें.

- हरी सब्जियां व फलों को अपनी डाइट में शामिल करें.

- खूब पानी पीयें, रोजाना म् से 8 घंटे की नींद लें.

- लर्निग कैपेसिटी बढ़ाने के लिए दवाई अवॉइड करें

बच्चे अक्सर एग्जाम टाइम में दवाई और बुरी चीजें स्टार्ट करते है. यह खतरनाक है. पेरेंट्स को चाहिए कि बच्चे के खाने-पीने का ध्यान रखे. बेलेंस्ड डाइट एग्जाम में बेहतर रिजल्ट देती है.

- डा. मुकुल शर्मा, साइकोलोजिस्ट एंड स्टूडेंट काउंसलर