दिल्‍ली की 'शोले' का 'गब्‍बर' कौन किरण बेदी या अरविन्‍द केजरीवाल

2015-01-22T10:54:56Z

दिल्‍ली की जंग के सूरमा जनता की अदालत में उतरने के लिए तैयार हो चुके हैं अन्‍ना के दो सिपाही अलग अलग छोरों पर एक दूसरे के सामने हैं देखना ये है कि किरण बेदी और अरविन्‍द केजरीवाल में कौन किस पर भारी पड़ेगा

दिल्ली विधानसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी की सीएम कैंडिडेट किरण बेदी और आम आदमी पार्टी के नेता और एक्स सीएम अरविन्द केजरीवाल के बीच कई चीजें कॉमन हैं. इन कॉमन बातों के साथ अगर इन दोनों को लेकर दिल्ली की 'शोले' बनी तो किस पर कौन सा डायलॉग फिट होगा थोड़ा टि्वस्ट के बाद इस पर एक नजर डालते हैं.

किरण बेदी: देखो मुझे बेफिजूल बात करने की आदत तो है नहीं
अरविन्द केजरीवाल:
मुझे तो सब पुलिस वालों की सूरतें एक जैसी लगती हैं.
कॉमन फैक्ट: दोनों ही मैगसायसाय पुरस्कार विजेता हैं. दोनों में से दिल्ली का सीएम कोई भी बने कुर्सी पर मैगसायसाय पुरस्कार विजेता ही बैठेगा.

किरण बेदी:
तेरा क्या होगा...
अरविन्द केजरीवाल:
इसकी सजा मिलेगी... बराबर मिलेगी
कॉमन फैक्ट:
दोनों ने ही यूपीएससी की परीक्षा पास की है. किरण बेदी आईपीएस व अरविन्द केजरीवाल आईआरएस रहे हैं

किरण बेदी:
जो डर गया...समझो मर गया
अरविन्द केजरीवाल:
कितने आदमी थे...रैली में
कॉमन फैक्ट:
दोनों ने ही अपनी नौकरी से वीआरएस यानी वालंटरी रिटायरमेंट लिया हुआ है

किरण बेदी:
हम अंग्रेज के जमाने के जेलर हैं...हा हा
अरविन्द केजरीवाल:
अरे ओ सांभा कितना इनाम रखे है सरकार हम पर
कॉमन फैक्ट:
दोनों ही इंडिया अंगेस्ट करप्शन का हिस्सा रहे हैं.

किरण बेदी:
लोहा गरम है... मार दो हथौड़ा
अरविन्द केजरीवाल:
आधे इधर जाओ...आधे इधर जाओ...और बाकी हमारे साथ आओ
कॉमन फैक्ट:
दोनों ने ही आईआईटी से पढ़ाई की है. किरण बेदी ने आईआईटी दिल्ली से सोशल साइंस में पीएचडी की है. वहीं अरविन्द केजरीवाल ने आईआईटी खड़गपुर से मैकेनिकल इंजीनियरिंग की डिग्री हासिल की है.



This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.