कोरोना से बचाव के लिए जीवन शैली में लाना होगा बदलाव

2020-05-23T21:45:49Z

- दैनिक जागरण आईनेक्स्ट अपडेट्स ऑन रेडियो सिटी पर चाइल्ड स्पेशलिस्ट डॉ। श्याम बाबू गुप्ता देंगे सुझाव

GORAKHPUR:

अब तक की स्थिति के हिसाब से हम सब यह जान चुके हैं कि कोरोना महामारी के साथ ही हमें रहने की आदत बनानी होगी। जीवन शैली में कुछ दीर्घगामी मूलभूत परिवर्तन करके हम काफी हद तक कोरोना महामारी से बचाव कर सकते हैं। चार चीजें बहुत महत्वपूर्ण है फ्रिक्वेंट हैंड वॉशिंग, मास्क लगाने की आदत, सोशल डिस्टेंसिंग यानी कम से कम 1 मीटर की दूरी और अनावश्यक रूप से बाहर निकलने की आदत पर लगाम। यह जानकारी दैनिक जागरण आईनेक्स्ट अपडेट्स ऑन रेडियो सिटी पर सिटी के गोरखनाथ स्थित धान्या पीडियाट्रिक केयर के डॉ। श्याम बाबू गुप्ता ने दी। इसका प्रोग्राम टेलीकास्ट सुबह 10 बजे रेडियो सिटी 91.9 एफएम पर होगा। जिसे सुनना आप न भूलें। डॉ। श्याम बाबू गुप्ता बताते हैं कि हम यह जानते हैं कि बच्चों की प्रतिरोधक क्षमता वयस्कों से बहुत कम होती है और ज्यादातर कोरोना इन्फेक्शन बच्चों में परिवार के सदस्यों की लापरवाही से ही आने की संभावना होती है। परिवार के सदस्य कोरोना बीमारी के हिसाब से अपनी जीवनशैली में परिवर्तन करके बच्चों में कोविड इन्फेक्शन की संभावना को काफी हद तक कम कर सकते हैं। बच्चों में जंक फूड का परहेज करें, खूब पानी और जूस पिलाएं, मौसमी फल हरी सब्जियां और अनाज खिलाएं। बच्चों को अनावश्यक रूप से बाहर ना निकलने दें। किसी भी प्रकार की साधारण सर्दी-खांसी बुखार की समस्या के लिए डॉक्टर से टेलिफोनिक परामर्श करें। गंभीर स्थिति होने पर अनुमति प्राप्त प्राइवेट हॉस्पिटल या सरकारी संस्थान में ही दिखाएं। सजग रहें, स्वस्थ रहें ।

Posted By: Inextlive

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.