लखनऊ (ब्यूरो)। राम मंदिर मुद्दे पर सुप्रीम कोर्ट का फैसला आने से पहले शुक्रवार रात से ही यूपी हाई अलर्ट मोड पर आ गया है। सीएम योगी आदित्यनाथ ने देर रात वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बैठक कर शांति-व्यवस्था को बनाए रखने के कड़े निर्देश दिए हैं। डीजीपी ओपी सिंह का कहना है कि प्रदेश में चप्पे-चप्पे पर कड़ी सुरक्षा-व्यवस्था है। गड़बड़ी करने वाले किसी भी व्यक्ति के खिलाफ कठोर कार्रवाई की जायेगी। उधर, संवेदनशील जिलों में खास सतर्कता बरतने का काम भी शुरू कर दिया गया है। इसके साथ ही सोशल मीडिया पर भी विशेष नजर रखी जा रही है। डीजीपी मुख्यालय ने बरेली, अलीगढ़, संभल, अमरोहा, आजमगढ़, हापुड़, मेरठ, मुरादाबाद, मुजफ्फरनगर, गोंडा, अंबेडकरनगर, बलरामपुर, बस्ती, बहराइच, मऊ, गाजीपुर समेत 21 जिलों को संवेदनशील घोषित किया है।

फैसले को जीत-हार से जोड़कर न देखें : योगी

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रदेशवासियों से अपील की है कि अयोध्या प्रकरण में सुप्रीम कोर्ट के फैसले को जीत-हार से जोड़कर न देखा जाए। यह हम सभी की जिम्मेदारी है कि प्रदेश में शांतिपूर्ण व सौहार्दपूर्ण वातावरण को बनाये रखें। योगी ने अपील की है कि लोग अफवाहें पर कतई ध्यान न दें। यदि कोई व्यक्ति कानून-व्यवस्था के साथ खिलवाड़ करेगा, तो उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी।

हर कदम पर सुरक्षा पहरा

अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी का कहना है कि सभी सुरक्षा बंदोबस्त की समीक्षा कर ली गई है। डीजीपी ओपी सिंह ने बताया कि सोशल मीडिया पर आपत्तिजनक व भड़काऊ पोस्ट करने वाले करीब 500 लोगों को पिछले एक माह में गिरफ्तार किया गया है। एडीजी अभियोजन आशुतोष पांडेय ने बताया कि पिछले अयोध्या व आसपास के जिलों में सुरक्षा बेहद कड़ी है। अयोध्या में अ‌र्द्धसैनिक बल, पीएसी व पुलिस के अलावा अतिरिक्त 11 एएसपी, 20 सीओ, 150 निरीक्षक, 250 उपनिरीक्षक, 1200 सिपाही व 1500 होमगार्ड भी तैनात किये गये हैं।

होगी कड़ी कार्रवाई

एडीजी कानून-व्यवस्था पीवी रामाशास्त्री व आइजी कानून-व्यवस्था प्रवीण कुमार त्रिपाठी ने सभी जोनल/परिक्षेत्रीय व जिलों की सोशल मीडिया सेल में नियुक्त राजपत्रित अधिकारियों व प्रभारियों से सीधे संवाद किया। आपत्तिजनक व भ्रामक पोस्टों, संदेशों व वीडियो के जरिये सांप्रदायिक सद्भाव भंग करने का प्रयास करने वालों के खिलाफ तत्काल कानूनी कार्रवाई करने तथा सोशल मीडिया अकाउंट ब्लॉक कराये जाने के निर्देश दिए गए।

- वाट्सएप नंबर 8874327341 पर करें शिकायत

आइजी कानून-व्यवस्था ने बताया कि सोशल मीडिया के विभिन्न प्लेटफार्म पर आपत्तिजनक पोस्ट अथवा वीडियो वायरल करने वालों के खिलाफ डीजीपी मुख्यालय स्तर से वाट्सएप नंबर 8874327341 पर शिकायत की जा सकती है।

lucknow@inext.co.in

Posted By: Inextlive

National News inextlive from India News Desk